President's Message

Seva Sadan Shiksha Mahavidyalaya is established in 2006 managed and administered by Seva Sadan Education Society, registered under Societies Registration act 1860 aims at imparting quality and need based education to students. The by-laws of the society enshrines the objective as “to promote intellectual cultural and moral advancement of the people of the Tapti Valley and the surrounding territories”. Ever since its establishment, the college has been leaving no stone unturned to transform the college in to an institution of excellence in the field of Higher Education and professional education.
I feel inexplicably proud and honoured to be a part of this multi faculty centre of learning as its president. Ever since I took over this onerous responsibility as its head I have been relentlessly working to continue the mission launched by my able, erudite and efficient predecessors and add my share in its development process.
Read More..



Principal's Message

सन्माननीय पालक, प्रिय छात्र / छात्रा
धर्म शिक्षा और राजनीति के लिए प्रसिद्ध ऐतिहासिक नगर बुरहानपुर के विकास के लिए सेवा सदन महाविद्यालय का योगदान अविस्मरणीय है | नगर के प्रबुद्ध नागरिको व शिक्षाविदो की दूरदृष्टी के फलस्वरूप सन 2006 में स्थापित हमारा महाविद्यालय आज पूरी आभा और वैभव के साथ बुरहानपुर के सम्यक शैक्षणिक एवं बौद्धिक मार्गदर्शन के माध्यम के रूप में उभरकर आया है | महाविद्यालय की इस विकास यात्रा में संस्थापक प्राचार्य स्वर्गीय घनश्यामदास चौकसे साहब के साथ-साथ समिती के अध्यक्ष पद को सुशोभित करने वाले स्व. केशवराव देशमुख, स्व. विश्वनाथ शास्त्री, स्व. ठा. नवलसिंह, स्व. फकीरचंद कपूर, स्व. ठा. शिवकुमारसिंह और स्व. ठाकुर महेंद्रकुमारसिंह जैसे कार्मयोगियो का मै स्मरण करते हुए श्रद्धासुमन अर्पित करता हू | इन महापुरुषो के कुशल नेतृत्व, उचित मार्गदर्शन, अतुल्य निष्ठा और समर्पणभाव ने सेवासदन महाविद्यालय को समूचे मध्यप्रदेश में उत्कृष्ठ स्थान दिलाया है | वर्तमान अध्यक्ष ठाकुर वीरेंद्रसिंह और उनके सह्योगियो के अनवरत व अथक प्रयासो से आज महाविद्यालय में वह सभी सुविधाए उपलब्ध है जो एक उच्च शिक्षा संस्थान में होणा चाहिये |
Read More..